जब Sonu Nigam ने बोला था कि अच्छा होता पाकिस्तान में पैदा होते

सोनू निगम बॉलीवुड इंडस्ट्री का वो सितारा है जिसकी चमक कभी नहीं ख़त्म हो सकती. भले ही इन दिनों सोनू निगम के कोई नए गाने नहीं आ रहे हों पर इनके स्टेज शो और कॉन्सर्ट काफी होते हैं. बात उस समय की है जब सोनू निगम का इंडिया टुडे के साथ इंटरव्यू हो रहा था

उनसे पूछा गया था कि पहले की म्यूजिक और आज की म्यूजिक में क्या फर्क है? तब उन्होंने बताया पहले के सिंगर्स को जितने भी पैसे मिलते थे वो सारे उनके हो जाते थे पर अब सारे पैसे म्यूजिक कंपनी ले लती है और उसके बाद हम सिंगर्स को पैसे मिलते हैं.

म्यूजिक कंपनी लेती है सिंगर्स से काफी पैसे: Sonu Nigam

Pakistani singer treated in India better than Indian singers

उन्होंने आगे भी बताया कि जो भी स्टेज शो या कॉन्सर्ट करते हैं तो जो पैसा मिलता है उसमे म्यूजिक कंपनी अपना पैसा मांगती है क्यूंकि गाने के राइट्स उन्हीं के पास हैं. अगर आप उन्हें पैसे नहीं देंगे तो वो आपका ही गाना आपको स्टेज या कॉन्सर्ट में गाने नहीं देंगे.

भले ही ये लीगल तरीके से हो रहा है पर ये गलत है. उधर पाकिस्तानी सिंगर राहत फ़तेह अली खान और आतिफ असलम का उदाहरण लेते हुए सोनू कहते हैं कि उनसे कोई भी म्यूजिक कंपनी पैसे नहीं लेते, इससे अच्छा होता हम पाकिस्तान में पैदा होते.

मोहम्मद रफ़ी को Sonu Nigam मानते हैं अपना गुरु

Sonu Nigam sung the song Badan Pe Sitare Lapete hue in Fanney Khan

आपको ये भी बताते अनिल कपूर और ऐश्वर्या राइ स्टारर फिल्म फन्ने खान में शम्मी कपूर की फिल्म प्रिंस का गाना बदन पे सितारे लपेटे हुए का रीमेक होना था. इसके लिए म्यूजिक कंपोजर ने गाने के लिए सोनू निगम को चुना था पर उन्होंने ये गाना गाने के लिए मना कर दिया था.

उन्होंने बताया था कि वो मोहम्मद रफ़ी साहब को अपना गुरु मानते हैं और उनका गाना वो नहीं गा सकते पर बाद में फिल्म के अभिनेता अनिल कपूर ने सोनू निगम को मनाया और तब वो बदन पे सितारे लपेटे हुए गाना गाने के लिए तैयार हुए.


ये भी पढ़ें | एक्टर Ali Zafar ने की इमरान खान के बयान की तारीफ, लोग बोले भारत आये तो बहुत पिटाई होगी